वर्ग पहेली क्रमांक 103

ऑनलाइन हिंदी वर्गपहेली क्रमांक 103

12
34
567
8
910
111213
14



बाएँ से दाएँ

3. अपमानित करना, अपमान करना, अनादर करना, पगड़ी उछालना, तिरस्कार करना
4. स्वादहीन, बेस्वाद, नीरस, फीका, बेज़ायक़ा, बेजायका, प़ीका, अस्वादिष्ट, अनास्वाद, रूखा, रुक्ष, रूख, फफसा, अरस
7. जोड़ना, जमा करना, संचित करना, इकट्ठा करना, एकत्रित करना, एकत्र करना
8. सींगदार, विषाणी, शृंगयुक्त, शृंगी
9. मुँगवन, मुकुष्ठ, मुकुष्ठक, मुगवन
10. ममरी, बबई, बर्बरी, शंबरीगंधा, मुखार्जक, श्वेतच्छद, तुंगी, मेषालु
11. वन में आप से आप सूखा हुआ गोबर
12. लगातार, अनवरत, निरंतर, निरन्तर, ताबड़तोड़
14. तिरस्कार करना, अनरना, अपमानना


ऊपर से नीचे
1. कुकुही, कचाटुर, बँसमुर्गी, बँसमुरगी; एक प्रकार की जंगली चिड़िया
2. जुठालना; किसी चीज का पहले उपभोग करके और छोड़ देना
5. अधीन करना, आधीन करना, वश में करना
6. ज्ञानार्जन, पढ़ाई, अधीती, अधिगमन;
7. जूतों से मारना
8. बेसिंगा, बेसिंघा, मुंडा, शृंगहीन, विशृंग
10. पापड़ा, एक वृक्ष विशेष
11. जंगल, अरण्य, कानन, विपिन, बियावान, बियाबान, वादी,
12. दर-बदर, द्वार-द्वार; दरवाजे दरवाजे पर
13. दयापूर्वक, कृपा कर के, कृपापूर्वक
---

पहेली क्रमांक 102 का उत्तर -
लेबल:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget