वर्ग पहेली 140

वर्ग पहेली 140
ऑनलाइन हिंदी वर्गपहेली http://vargapaheli.blogspot.com

123
4
56
78
9
1011
12

निटाप वगिरिर गिहरो लगिम सगिला शिनिता कीमहनीम नीमा नीर तावरनी रानी लनी कलमलनी नीलणिम ललातकुंनी गिनीरिल लनीम नीबलांर

बाएँ से दाएँ
1. जिसे ठीक से इलाज करना नहीं आता हो
4. दक्षिण भारत का एक पर्वत, तमिलनाडु का एक शहर , एक ऊँचा पेड़
6. नरम और चिकना ऊनी कालीन
7. तृणग्राही, इंद्रनील, इन्द्रनील, शितिरत्न, नीलरत्न
8. जल, पानी, अंबु, अम्बु, पय, वारि, आब,
9. नील नामक पौधे से निकलनेवाला नीला रंग
10. पानी,दूध आदि पीने का एक गोल और लंबोतरा बरतन
11. संपादित करना, सम्पादित करना, करना
12. शान्ति, ख़ामोशी, खामोशी, शब्दहीनता, ध्वनिहीनता, कोलाहलहीनता, सन्नाटा

ऊपर से नीचे
1. ताड़ी, मुखसुर; ताड़ के वृक्ष का रस जो पीने में बहुत स्वादिष्ट तथा गुणकारी होता है
2. नीलमणि, तृणग्राही, इंद्रनील, इन्द्रनील
3. पर्वतराज, गिरिराज
4. नीलांबुज, नीलोत्पल, इंदीवर, इन्दीवर,
5. पार्वती की एक सखी
8. जामे के नीचे पहनने का एक पहनावा
9. नीला वस्त्र; नीले रंग का कपड़ा
10. दल, टोली, मंडली, जत्था, जमात
11. रात, रात्रि, रजनी, निशा, यामा, यामिनी, रैना, रैन, विभावरी
--
पहेली 139 का हल:

लेबल:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget