487 - ताप के प्रभाव से किसी ठोस पदार्थ का तरल में परिवर्तित होना


ऑनलाइन वर्गपहेली क्रमांक - 487
ऑनलाइन उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) शब्द पहेली Online Hindi Crossword / scrambled / jumbled word Puzzle
    1 2
               
3   4    
          5   6
7   8  
    9    
  10     11 12  
  13   14    
           
  15   16  

चपंमांगी करीता अंशी बठनाना कड़ील हयाजएति अंरकगीण सुआत टस सोआज चतयकनारि कतिघासां इंच रज़ीता अंगरधेरीन नगार लही नालग नबास टनारका डीएयकंररनश

बाएँ से दाएँ
1. वातानुकूलक; शीत-ताप नियंत्रक।
3. 1. संघात से संबंधित 2. ऐसा प्रहार जो जान लेवा हो; घातक; ऐसा कार्य जिससे प्राणों पर संकट आ सकता हो; जोखिमभरा; हननकारक।
4. 1. भागीदार; हिस्सेदार 2. कई अंशों या अवयवों वाला; अवयवी 3. किसी व्यापारिक संस्था या निगम आदि की संपत्ति का साझेदार; शेयरधारक।
7. क्वार का महीना; अश्विन मास।
8. बहाना करके किसी आए हुए व्यक्ति को लौटा देना; चलता करना।
9. 1. बरतन; पात्र; धातु
11. 1. ताप के प्रभाव से किसी ठोस पदार्थ का तरल में परिवर्तित होना; पिघलना
13. 1. लंबाई मापने की इकाई; एक फुट का बारहवाँ हिस्सा; तीन जौ की लंबाई ('जौ' का दाना गेहूँ के दाने से किंचित बड़ा और लंबा होता है) 2. ज़रा-सा; थोड़ा-सा
14. 1. श्याम; काला 2. अँधेरा 3. धुँधला।
15. 1. अपने ऊपर लेने की क्रिया या भाव; अंगीकार या स्वीकार करना; अपनाना 2. स्वीकृति; आदान; मंज़ूरी; राज़ी होना 3. संबद्धता 4. प्रतिज्ञा; वादा।
16. 1. पनाले आदि का गंदा कीचड़; गलीज़ 2. एक प्रकार का सदाबहार पेड़ जिसके तने से गोंद निकलता है; अरदल; गोरक।

ऊपर से नीचे
1. 1. अभाव 2. गरज़; आवश्यकता; ज़रूरत।
2. 1. आपदा; विपत्ति; मुसीबत 2. जंगल में शिकार के लिए पशुओं को बीच में इकट्ठा करने के लिए मनुष्यों द्वारा बनाया गया घेरा; घिराव 3. जनसमूह।
4. 1. ऐसा स्थान जहाँ भ्रष्टाचार और अव्यवस्था फैली हुई हो; धाँधली और बेईमानी का स्थान 2. शोषणकारी राज्य; अराजक राज्य; कुशासन 3. ऐसा राज्य जहाँ भ्रष्ट और मूर्ख नेताओं का शासन हो 4. भारतेंदु हरिश्चंद्र का मशहूर नाटक।
5. 1. सजा-सँवरा; ख़ूब सज-धजकर रहने वाला 2. बनाव शृंगार करने वाला।
6. वह व्यक्ति जिसके जीवन-चरित्र के आधार पर कोई ग्रंथ
7. आसवन किया हुआ; आसवित; चुआया हुआ।
8. 1. किसी भारी वस्तु के खिसकने से होने वाली आवाज़ 2. कपड़े आदि के फटने की आवाज़। [मु.] -से मस न होना : अपनी बात पर अड़े रहना; हठ न छोड़ना; किसी भारी चीज़ का अपने स्थान से न हिलना।
10. 1. पंचमांग संबंधी 2. गद्दार।
12. 1. पेड़ या वृक्ष की सूखी शाखा; काटकर सुखाया गया पेड़ या उसका हिस्सा; काठ; काष्ठ 2. लाठी या छड़ी 3. ईंधन। [मु.] -चलना : लाठियों से मारपीट होना।
14. दंड; सज़ा; जुर्माना।
लेबल:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget