681 - स्त्रियों का कुरते या कमीज़ के नीचे पहना जाने वाला वस्त्र।

ऑनलाइन वर्गपहेली क्रमांक - 681
ऑनलाइन उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) शब्द पहेली Online Hindi Crossword / scrambled / jumbled word Puzzle
  1 2   3 4  
      5     6
7 8        
    9    
              10
  11       12
13           14
15   16  
    17     18
19         20

पनाछी पनाचे भाकरि टोलप भौंह सपदीत कुंदा मीसज तीलातका जनयो विकजरा पभागोनव रीनफ़ चपकन रीप बंदा नजन कजरि सारिक वतापूभीर्करगं ननाछी पज रीआका तविररचाहि

बाएँ से दाएँ
1. सप्तपदी।
3. 1. आकारवाला 2. आकृति का 3. शक्लवाला।
7. जीवन-वृति; रोजी; आजीविका।
9. विचारों से रहित; विचारशून्य।
11. 1. दूरी का एक नाप 2. एकत्रीकरण 3. योग; मिलान 4. परमात्मा।
12. 1. जपने की क्रिया 2. किसी पद या वाक्य का भक्तिभाव से किया जाने वाला बारंबार उच्चारण 3. पूजा-पाठ इत्यादि में मंत्रों का संख्यापूर्वक पाठ।
14. 1. दूसरे से कोई वस्तु ज़बरदस्ती ले लेना; उचक लेना 2. काटकर अलग करना 3. अनुचित रूप से किसी की वस्तु अपने अधिकार में कर लेना 4. किसी को दिया हुआ अधिकार या सुविधा वापस ले लेना 5. हरण करना 6. ऐंठ लेना।
15. 1. एक प्रकार का रेशमी वस्त्र 2. परवल।
16. 1. भावों का प्रकट न करने की अवस्था; अधिगोपन; अनाभिव्यक्ति 2. चुप्पी; मौन।
17. 1. सारांश के रूप में एक जगह एकत्र किया हुआ 2. जो कम शब्दों में लिखा या कहा गया हो; संक्षिप्त।
19. 1. एक मज़दूर की एक दिन की मज़दूरी या कमाई; दिहाड़ी 2. काम या मज़दूरी के दिनों की वाचक संज्ञा।
20. 1. सेवक; दास 2. विनय दिखाने के लिए व्यक्ति द्वारा स्वयं के लिए सूचित शब्द

ऊपर से नीचे
1. स्त्रियों का कुरते या कमीज़ के नीचे पहना जाने वाला वस्त्र।
2. 1. कथा-कहानियों में वर्णित वह कल्पित रूपवती स्त्री जो अपने परों की सहायता से आकाश में उड़ती है; अप्सरा; हूर 2. फ़ारसी मिथकों के अनुसार काफ़ पर्वत पर बसने वाली पंखों से युक्त वह सुंदर स्त्री जो जहाँ चाहे जा सकती थी और ज़रूरत पड़ने पर अदृश्य हो जाती थी 3. बहुत सुंदर स्त्री।
4. 1. जो काल से परे हो; कालनिरपेक्ष 2. जिसका समय बीत गया हो 3. जिसकी अवधि बीत गई हो और जिसकी वैधता समाप्त हो गई हो।
5. गंभीरता के साथ; सोच-समझकर; गंभीर होते हुए।
6. भौं; भृकुटी; आँखों के ऊपर की हड्डी पर के रोएँ या बाल। [मु.] -चढ़ना : क्रोधित होना।
8. 1. कवियों का राजा अर्थात श्रेष्ठ कवि 2. चारण या भाट 3. वैद्यों की एक उपाधि।
10. चेप लगाकर चिपकाना या सटाना।
12. 1. उत्पत्ति; उद्भव 2. जन्म 3. आविर्भाव 4. कुल; वंश।
13. 1. एक प्रकार का अंगा; अँगरखा 2. किवाड़
14. कँटिया में मछली फँसने पर उसे बंसी के द्वारा खींचकर बाहर निकालना।
16. 1. भार ढोने वाला; बोझ ढोने वाला 2. भारी।
18. 1. लकड़ी का बड़ा

टिप्पणियाँ

और पहेलियाँ

अधिक दिखाएं

Contact us

नाम

ईमेल *

संदेश *