जम्बो 14 - गूँथे हुए आटे में डाला जाने वाला घी या तेल जिसके कारण उससे बनने वाली वस्तु खस्ता और मुलायम होती है।

jumbo 14 ऑनलाइन वर्गपहेली
ऑनलाइन उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) शब्द पहेली Online Hindi Crossword / scrambled / jumbled word Puzzle
1 2         3       4
      5     6      
      7         8  
    9           10  
11         12   13          
        14   15 16   17 18  
19         20      
    21   22     23  
  24         25      
            26     27
      28   29 30     31
  32                  
    33   34        
35             36
      37   38        

मातिख़ा छमाही रखिखिं डोड़ी लबले फ़िईज़ा झाँखना बीसी तनिंदि दमी मोयन चुचं माहीति मामाचंदा टलअ रुतगुस सभमारं दाज़िं नाड़स अंशुल ख़ातयसि भभनाक बनौरहा यदिलतों ड़ड़ीहब केलनाध वानखना भद नारछाति डंरबआ फ़ीलॉफ़िस भयाकुल झबाँ खड़ड़ीब बानाच टहलना एकचर कोको पौकति रहबर बाँनाध रमको नमीक तटाचिअं

बाएँ से दाएँ
1. 1. दर्शनशास्त्र 2. तत्वज्ञान; दर्शन।
4. 1. किसी चीज़ को मुँह में लेकर दाँतों से कुचलना; काटना; चाबना 2. खाना 3. मारना या नष्ट करना।
6. 1. ज़ोर लगाकर आगे बढ़ाने की क्रिया; धक्का देना; ढकेलना; धकियाना 2. आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करना 3. झोंकना; ठोकना 4. हटाना; निकालना 5. निवारना 6. धक्कामुक्की करना 7. पेलना; रेलना।
7. व्यायाम या मन बहलाने के लिए धीरे-धीरे चलना; चहलकदमी।
9. भय से घबराया हुआ; डरा हुआ; भयभीत।
10. गूँथे हुए आटे में डाला जाने वाला घी या तेल जिसके कारण उससे बनने वाली वस्तु खस्ता और मुलायम होती है।
11. जीवंती नामक वनस्पति जो औषधि के काम आती है।
14. (घाव या फोड़ा) जिसमें विषाक्त कीटाणुओं के उत्पन्न होने से पूति अर्थात पीव या पस पड़ गया हो; पूति दूषित; पूयित; (सेप्टिक)।
15. किसी वस्तु के ऊपर से गिरने की आवाज़।
17. 1. झींखने की क्रिया या भाव 2. दुख का वर्णन; दुखड़ा।
19. जिससे किरणें निकलती हों; प्रभायुक्त; चमकदार।
20. घात
22. 1. तिरछा होना 2. टेढ़ा होना या मुड़ना।
23. बोतल
24. 1. लोककथाओं तथा बालगीतों में चाँद के लिए प्रयोग किया जाने वाला एक संबोधन 2. परिवार में या बाल कहानियों में बच्चों को बहलाने-रिझाने के लिए चाँद को मामा के रूप में चित्रित किया जाता है।
26. 1. जिसकी निंदा की जाती हो या की गई हो 2. दूषित; गर्हित।
28. (वह स्त्री
29. 1. एक तरह का गंधपूर्ण पदार्थ 2. चारपाई का पाया।
31. 1. अंत; समाप्ति 2. मृत्यु; मरण 3. नतीजा; परिणाम; फल 4. पुस्तक का अंतिम अध्याय 4. सफ़ाया।
33. एक कल्पित पक्षी का नाम जिसका प्रयोग छोटे बच्चों को बहलाने-फुसलाने के लिए किया जाता है।
34. 1. दिखावा; प्रदर्शन 2. युद्ध का कोलाहल 3. मेघ का गर्जन 4. हाथी का चिंघाड़ना 5. तंबू 6. गर्व 7. हर्ष।
35. 1. वसंत का मौसम 2. वसंत ऋतु की शुरुआत।
36. 1. सच्चा गुरु; अच्छा गुरु 2. परमात्मा; ईश्वर 3. आध्यात्मिक गुरु।
37. 1. किसी चीज़ का ख़राब होना 2. घटक तत्वों का अलग होना 3. बहुत दुर्दशा को प्राप्त होना; दुख और यंत्रणा में पड़े रहना
38. 1. बीस का समूह; कौड़ी 2. भूमि की एक माप 3. साठ संवत्सरों के तीन विभागों में से कोई विभाग 4. बीस बीघे के हिसाब से लगने वाला लगान 5. तौलने का काँटा; तुला।

ऊपर से नीचे
1. 1. फ़िज़ा संबंधी 2. वातावरण से संबंध रखने वाला।
2. 1. अच्छी तरह आरंभ होना 2. समारोह 3. अंगलेप 4. साहसिक कार्य 5. साहसिक कार्य करने का उत्साह या भाव।
3. 1. हिलने-डुलने
5. 1. दृढ़; दृढ़निश्चयी 2. पक्का; निश्चित; अवश्यंभावी 3. अचल; स्थिर।
8. खुदाई का काम कराना; खनाना।
12. अकेले विचरने वाला; एकाकी।
13. 1. तेज़ी से जल उठना; भड़कना 2. उबलना; दहकना 3. तेज़ बदबू आदि का अनुभव होना।
16. 1. दम लगाने या साधने वाला 2. गाँजा पीने वाला; गँजेड़ी 3. दमे का रोगी।
18. 1. गड़बड़ी 2. चीज़ों का अस्त-व्यस्त या बेतरतीब हो जाना 3. बेचैनी या घबराहट 4. हलचल।
19. 1. पीठ के बल चित 2. पूरी तरह पराजित 3. मदहोश; बेसुध 4. स्तब्ध 5. बर्बाद 6. बेकार।
21. 1. जीवित; सजीव; जीता हुआ 2. जिसमें जीवनशक्ति हो 3. सक्रिय; क्रियाशील 4. हरा-भरा; प्रफुल्लित 5. जो अभी काम में न लिया गया हो
22. तीन माह में होने वाला; तीन महीनों का; त्रैमासिक।
24. 1. चोंच 2. किसी वस्तु के आगे की नोक 3. बरसात में होने वाली एक वनस्पति; चेंच।
25. ऐसा व्यक्ति जिसकी तोंद निकली हो।
27. प्रति छह महीने पर होने वाला; अर्धवार्षिक।
30. राह दिखाने वाला; मार्गदर्शक।
31. 1. विशेषता; अच्छाई; ख़ूबी 2. किसी तरह का हुनर या विशेषज्ञ 3. किसी वस्तु या व्यक्ति में होने वाला कोई विशिष्ट गुण; विशेषज्ञता 4. प्रकृति; स्वभाव 5. प्रभाव; असर।
32. 1. जल्दी; शीघ्रता; उतावलापन जल्दबाज़ी; उतावली; आतुरता 2. वह स्थिति जिसमें हड़बड़ाते हुए कोई काम करना पड़ता हो।
33. किसी बैठक आदि में उपस्थित होने वाले सदस्यों की नियमतः निर्धारित संख्या जिसके पूर्ण न होने पर बैठक या सभा विधिसम्मत नहीं मानी जाती; गणपूर्ति।

टिप्पणियाँ

और पहेलियाँ

अधिक दिखाएं

Contact us

नाम

ईमेल *

संदेश *