रविवार, 31 जुलाई 2011

वर्ग पहेली 137

वर्ग पहेली 137
ऑनलाइन हिंदी वर्गपहेली http://vargapaheli.blogspot.com

123
4
5
6
7
8
9

पनिटरगँवा नितपा तपूनि नितय यरहितमनि एकक ताकनए एदराक तमकए कयराए एकल तामाहीन दमाक

बाएँ से दाएँ
1. अपूत, पुत्रहीन, पुत्ररहित, विपुत्र
4. एक या समान मत रखनेवाले
5. मकसद, आशय, मतलब, कारण, ध्येय
6. अमातृक; जिसकी माता न हो
7. एकराय; एक या समान मत रखनेवाले
8. जिसमें केवल एक दरवाजा हो
9. अकेला, अनुपमेय, अनूप

ऊपर से नीचे
1. विनाश, अंत, अन्त, तबाही, नाश, बरबादी, ध्वंस
2. एकाग्रचित्त, तन्मय
3. बेक़ायदा, अनियमबद्ध
5. महामूर्ख, मिट्टी का घोंघा, बुद्धि का भसुर, वज्र मूर्ख,
6. नशीला, नशेदार, मादनीय, मादन
7. ईकाई, यूनिट
--


पहेली क्रमांक 136 का हल:

शनिवार, 30 जुलाई 2011

वर्ग पहेली 136

वर्ग पहेली 136
ऑनलाइन हिंदी वर्गपहेली http://vargapaheli.blogspot.com

1
2
34
5
6
7
8
9

गमतनढ़ं लाचनम मनुदजा मजहफू खासनिलि निखिल धनिगं गनिमी निगोड़ा ईजानि निमीजा जीनि

बाएँ से दाएँ
1. खरा, बढ़िया, बेमिलावटी, असली, शुद्ध
2. मानवभक्षी; मनुष्यों को खानेवाला
3. सुरक्षित, निरापद
5. रसिक, रंगीन, रँगीला
6. विवादित, विवादास्पद, वादग्रस्त
8. वेद, श्रुति
9. गंधहीन, निर्गंध, वासहीन

ऊपर से नीचे
1. अभागा, बदनसीब, अभागी
4. कपोल कल्पित, हवाई,
6. निजाम का या उससे संबंधित
7. कुल, समस्त, सब, पूरा, सारा, संपूर्ण,
8. अपना, स्वकीय, स्वायत्त, वैयक्तिक, व्यक्तिगत
--
पहेली 135 का हल:

शुक्रवार, 29 जुलाई 2011

वर्ग पहेली 135

वर्ग पहेली 135
ऑनलाइन हिंदी वर्गपहेली http://vargapaheli.blogspot.com

12
345
6
7
8
9
1011

महसूली मचंहाड हानम रीगनयमहा नीहाचम हाकीतपाम बमलीहा हाजमभु नाहामम हिममहाम निगरा निलाच रडनि

बाएँ से दाएँ
1. महापातक करनेवाला
3. बहुत उच्च और उदार मनवाला
6. अति बलिष्ठ
7. अज़ीम, अजीम, ऊँचा, बड़ा, मूर्धन्य, श्रेष्ठ, उदात्त, अध्यारूढ़
8. अभय, निर्भय, निर्भीक, बेडर, बेखौफ
9. महापापी, पापाधम
10. आजानुबाहु, महाबाहु
11. जो जल मिलाकर पतला न किया गया हो

ऊपर से नीचे
2. कराधीन, करयुक्त
3. महानगर संबंधी या महानगर का
4. जिसकी महिमा बहुत अधिक हो या बहुत बड़ी महिमावाला
5. प्रचंड, भयानक, डरावना, भयंकर
8. नीचे का
--


गुरुवार, 28 जुलाई 2011

वर्ग पहेली 134

वर्ग पहेली 134
ऑनलाइन हिंदी वर्गपहेली http://vargapaheli.blogspot.com

12
345
6
7
8
9
10

चानहाम लननमशी नपमदसं मनमाना मौनमजी नरहम समहून नाम गामहँ हजम हमर हरूमम सहमसू हाम मकायहा

बाएँ से दाएँ
1. मनचाहा, स्वेच्छित, मनमर्ज़ी का, स्वैच्छिक, अनियंत्रित
2. निरंकुश, स्वेच्छाचारी, अप्रतिबंधित, बेलगाम
3. कीमती
6. मनपसंद, पसंदीदा, पसंद का, पसन्दीदा, मनपसन्द
8. अनुभूत
9. सुन्दर, खूबसूरत, चारु, मनोहर, ललित
10. चिंतनशील

ऊपर से नीचे
1. पसन्दीदा, प्रिय, मनचाहा, मनभाता
2. प्रकाण्ड, बहुत बड़ा, अत्यन्त, अत्यधिक, बे-इंतहा
3. मना किया हुआ, निषिद्ध, वर्जित, प्रतिबंधित, रूठे हुए को प्रसन्न करना
4. दुर्भाग्यशाली, अभागा, बदनसीब, भाग्यहीन
5. अतिकाय, बृहत्काय, भारी-भरकम, विशालकाय, भीमकाय, विकराल, लंबा चौड़ा
7. कहार जाति, मुसलमानों में वह धन-सम्पत्ति जो विवाह के समय वर पक्ष से वधू को मिलता है, दयालु, कृपालु, दयावान,
8. वंचित
9. केवल, सिर्फ़, मात्र, खाली
--
वर्ग पहेली 133 का हल-

वर्ग पहेली 133

वर्ग पहेली 133
ऑनलाइन हिंदी वर्गपहेली http://vargapaheli.blogspot.com

1

2
3



4



5

6


7

8










9
10







11

12

बावाँ हबारी बुझा रिलयाईबुगा याबेईह ऐबबे मीठा बामुँजनीह रहमुँज़ो मुँहरीखअ रखमु मुतरिख ख़ामुतिब गलईमु तदिमु

बाएँ से दाएँ
1. मुँह-फट, मुँह-छुट
5. बातूनी, वाचाल, अतिभाषी
6. बायाँ, बाँयाँ, वाम
7. निर्दोष, दोषहीन, दोषरहित, पापशून्य, अमल
8. प्रसन्न, ख़ुश, खुश, आनंदित, पुलकित, हर्षित, विह्वल
9. बुल्गारिया का निवासी या वहाँ की भाषा
11. मधुर, मिष्ट
12. मौखिक, वाचिक, जबानी

ऊपर से नीचे
1. कंठस्थ, मुखाग्र
2. बुद्धि, अक्ल, प्रज्ञा, विवेक, किसी पदार्थ के आग से जलने का अंत करना या आग को शांत करना
3. पास में होकर बात करने को उद्दत या बात करनेवाला
4. शब्दों या ध्वनियों से युक्त,बोलता हुआ
7. निर्लज्ज, लज्जाहीन, बेशरम
8. मुगलों का-सा
10. बाहर का या बाहर से संबंधित
--

पहेली क्रमांक 132 का हल-

वर्गपहेली varga paheli - 928

वर्गपहेली varga paheli - 928 ऑनलाइन हिन्दी उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) हिंदी शब्द - वर्ग पहेली Online Hindi Crossword / scrambled /...

रचनाकार : हिंदी साहित्य का आनंद लें

पढ़ें हिंदी साहित्य की अग्रणी ऑनलाइन पत्रिका - रचनाकार. अब एंड्रायड ऐप पर भी.

रचनाकार

टेक्नॉलाज़ी और हास्य-व्यंग्य

तकनीक और हास्य व्यंग्य का संगम - पढ़ें छींटे और बौछारें. अब एंड्रायड ऐप पर भी.

छींटे और बौछारें अब वेबसाइट के साथ साथ एंड्रायड ऐप पर भी.
अपने फ़ोन पर पढ़ने का बेहतर आनंद छींटे और बौछारें ऐप्प से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प
image
इंस्टाल करें.

सृजन व प्रस्तुति: रवि रतलामी

मेरी फ़ोटो
टैक्नोक्रेट, सॉफ़्टवेयर स्थानीयकरण विशेषज्ञ, संपादक, लेखक। > हिंदी कंप्यूटिंग को लोकप्रिय बनाने में जीवटता से संलग्न, 20+ वर्ष का प्रशासकीय/प्रबंधन/तकनीकी अनुभव, हिंदी में तकनीकी/साहित्य लेखन व संपादन तथा कंप्यूटरों, आईटी के हिंदी व छत्तीसगढ़ी भाषा में स्थानीयकरण / शिक्षण- प्रशिक्षण में सक्रिय भूमिका. हिंदी लिनक्स आपरेटिंग सिस्टम के प्रारंभिक रिलीज में महत्वपूर्ण भूमिका. 1000+ कंप्यूटिंग अनुप्रयोगों का हिंदी में स्थानीयकरण. अधिकतर कार्य मुक्त स्रोत के तहत, निःशुल्क, मानसेवी आधार पर. छत्तीसगढ़ी लिनक्स तथा छत्तीसगढ़ी विंडोज एप्लीकेशन सूट निर्माण में एकल-प्रमुख भूमिका. पिछले कई वर्षों से नियमित रूप से हिंदी में तकनीकी/हास्य-व्यंग्य ब्लॉग लेखन, आनलाइन पत्रिका रचनाकार.आर्ग का संपादन तथा हिंदी की सर्वाधिक समृद्ध आनलाइन वर्गपहेली का सृजन.