गुरुवार, 14 अक्तूबर 2010

वर्गपहेली 104

वर्गपहेली 104

1
23
4
56
7
8
9


बाएँ से दाएँ

1. काश्मीर और भूटान आदि ठंडे देशों में पाया जानेवाला एक भूरा पक्षी
3. पठान जाति की स्त्री
5. वन्यपशु, जंगली जंतु, वन्य प्राणी
6. लोनिया गास, अमलोनी, लवणतृण, तृणाम्ल, नोनी, एक प्रकार की घास जिसकी पत्ती छोटी और खट्टी होती है
8. कौंर; एक वृक्ष
9. जोरदार पानी गिरना

ऊपर से नीचे
1. बंजारा परिवार की स्त्री
2. दिन-प्रतिदिन, दिन-दिन
3. लकड़ी का वह पटरा आदि जो कुएँ के मुख के बीचोंबीच इसलिए रखा रहता है कि पानी भरने वाला एक पैर उसपर रखकर पानी निकाले
4. बगमा धनेश, चलोतरा, धनमार; गिद्ध के आकार का एक लंबी चोंचवाला पक्षी जिसका गला और पेट सफेद होता है
5. पित्तपापड़ा, पापड़ा, शीतवल्लभ
6. बन-ठन, बनावशृंगार, सजधज
7. एक प्रकार की घास
---

पहेली 103 का उत्तर-

सोमवार, 4 अक्तूबर 2010

वर्ग पहेली क्रमांक 103

ऑनलाइन हिंदी वर्गपहेली क्रमांक 103

12
34
567
8
910
111213
14



बाएँ से दाएँ

3. अपमानित करना, अपमान करना, अनादर करना, पगड़ी उछालना, तिरस्कार करना
4. स्वादहीन, बेस्वाद, नीरस, फीका, बेज़ायक़ा, बेजायका, प़ीका, अस्वादिष्ट, अनास्वाद, रूखा, रुक्ष, रूख, फफसा, अरस
7. जोड़ना, जमा करना, संचित करना, इकट्ठा करना, एकत्रित करना, एकत्र करना
8. सींगदार, विषाणी, शृंगयुक्त, शृंगी
9. मुँगवन, मुकुष्ठ, मुकुष्ठक, मुगवन
10. ममरी, बबई, बर्बरी, शंबरीगंधा, मुखार्जक, श्वेतच्छद, तुंगी, मेषालु
11. वन में आप से आप सूखा हुआ गोबर
12. लगातार, अनवरत, निरंतर, निरन्तर, ताबड़तोड़
14. तिरस्कार करना, अनरना, अपमानना


ऊपर से नीचे
1. कुकुही, कचाटुर, बँसमुर्गी, बँसमुरगी; एक प्रकार की जंगली चिड़िया
2. जुठालना; किसी चीज का पहले उपभोग करके और छोड़ देना
5. अधीन करना, आधीन करना, वश में करना
6. ज्ञानार्जन, पढ़ाई, अधीती, अधिगमन;
7. जूतों से मारना
8. बेसिंगा, बेसिंघा, मुंडा, शृंगहीन, विशृंग
10. पापड़ा, एक वृक्ष विशेष
11. जंगल, अरण्य, कानन, विपिन, बियावान, बियाबान, वादी,
12. दर-बदर, द्वार-द्वार; दरवाजे दरवाजे पर
13. दयापूर्वक, कृपा कर के, कृपापूर्वक
---

पहेली क्रमांक 102 का उत्तर -

वर्गपहेली varga paheli - 928

वर्गपहेली varga paheli - 928 ऑनलाइन हिन्दी उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) हिंदी शब्द - वर्ग पहेली Online Hindi Crossword / scrambled /...

रचनाकार : हिंदी साहित्य का आनंद लें

पढ़ें हिंदी साहित्य की अग्रणी ऑनलाइन पत्रिका - रचनाकार. अब एंड्रायड ऐप पर भी.

रचनाकार

टेक्नॉलाज़ी और हास्य-व्यंग्य

तकनीक और हास्य व्यंग्य का संगम - पढ़ें छींटे और बौछारें. अब एंड्रायड ऐप पर भी.

छींटे और बौछारें अब वेबसाइट के साथ साथ एंड्रायड ऐप पर भी.
अपने फ़ोन पर पढ़ने का बेहतर आनंद छींटे और बौछारें ऐप्प से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प
image
इंस्टाल करें.

सृजन व प्रस्तुति: रवि रतलामी

मेरी फ़ोटो
टैक्नोक्रेट, सॉफ़्टवेयर स्थानीयकरण विशेषज्ञ, संपादक, लेखक। > हिंदी कंप्यूटिंग को लोकप्रिय बनाने में जीवटता से संलग्न, 20+ वर्ष का प्रशासकीय/प्रबंधन/तकनीकी अनुभव, हिंदी में तकनीकी/साहित्य लेखन व संपादन तथा कंप्यूटरों, आईटी के हिंदी व छत्तीसगढ़ी भाषा में स्थानीयकरण / शिक्षण- प्रशिक्षण में सक्रिय भूमिका. हिंदी लिनक्स आपरेटिंग सिस्टम के प्रारंभिक रिलीज में महत्वपूर्ण भूमिका. 1000+ कंप्यूटिंग अनुप्रयोगों का हिंदी में स्थानीयकरण. अधिकतर कार्य मुक्त स्रोत के तहत, निःशुल्क, मानसेवी आधार पर. छत्तीसगढ़ी लिनक्स तथा छत्तीसगढ़ी विंडोज एप्लीकेशन सूट निर्माण में एकल-प्रमुख भूमिका. पिछले कई वर्षों से नियमित रूप से हिंदी में तकनीकी/हास्य-व्यंग्य ब्लॉग लेखन, आनलाइन पत्रिका रचनाकार.आर्ग का संपादन तथा हिंदी की सर्वाधिक समृद्ध आनलाइन वर्गपहेली का सृजन.