ऑनलााइन हिंदी विश्व की सर्वप्रथम, समृद्ध वर्ग पहेलियाँ। मनोरंजन। ज्ञानवर्धन। दिमाग़ी कसरत।

520 - होली के अवसर पर गाया जाने वाला एक प्रकार का गीत

ऑनलाइन वर्गपहेली क्रमांक - 520
ऑनलाइन उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) शब्द पहेली Online Hindi Crossword / scrambled / jumbled word Puzzle
  1               2
  3 4    
          5
      6 7      
      8   9
10 11          
      12 13  
14        
      15  
  16       17

चचारी दामसौ लाबाहस बनशकापो धावैचणरअ उधार णगुन उबड़ंरी रीठम पस शलब चरारप कुलारचा रीदख़ भिअदयनीवं यधाँ दारारीह णरहभि‌अ दाकए

बाएँ से दाएँ
3. 1. विधिविरुद्ध आचरण 2. अमर्यादित व्यवहार।
5. 1. लेख आदि का आरंभिक रूप जिसमें आवश्यक काट-छाँट की जा सकती हो; प्रारूप 2. पुस्तक आदि का मूल लेख; पांडुलिपि 3. मसविदा।
6. 1. पीछे; बाद या अंत में 2. इसलिए 3. निःसंदेह; बेशक 4. अतः; आख़िरकार।
8. सड़क का कर; चुंगी; (रोड टैक्स)।
10. 1. (गणित) एक संख्या को दूसरी संख्या से गुणा करना 2. पहाड़ा 3. अनुमान या विचार करना 4. मनन करना; सोचना 5. रटना।
12. 1. किसी कुल या परिवार द्वारा परंपरा से व्यवहृत रीति-नीति या आचार; कुल-धर्म 2. वाममार्गियों का धर्म; कौल धर्म।
14. एक प्रकार का तार वाला बाजा।
15. 1. ख़रीदने की क्रिया या भाव; क्रय; ख़रीददारी 2. वह जिसपर कोई वस्तु ख़रीदी जाए।
16. 1. कई प्रकार के रंगों का मिश्रण 2. जल; पानी 3. बौद्धों का एक प्रकार का धार्मिक संस्कार 4. अगिया घास 5. चीता; चित्रक।
17. 1. तोप या बंदूक के चलने की आवाज़ 2. गोला या गोली छूटने की ध्वनि 3. धमाका।

ऊपर से नीचे
1. 1. उठा लेना या छीन लेना 2. लूटना 3. दूर करना या हटाना; एक स्थान से दूसरे स्थान पर ले जाना।
2. 1. एक बार; एक समय 2. कभी; किसी समय 2. किसी बीते हुए समय में कभी।
4. 1. ऐसा खाद्य पदार्थ जिसमें खटाई
5. घी आदि में तली हुई मैदे की छोटी बूँदी या टिकिया; एक प्रकार का नमकीन या मीठा खाद्य पदार्थ।
7. (हिंदू विवाह) वह छोटा बालक जो विवाह के समय दूल्हे के साथ पालकी पर अथवा उसके पीछे घोड़े पर बैठकर जाता है।
9. 1. प्रणम्य; बंदगी के योग्य 2. प्रशंसा या स्तुति के योग्य।
11. 1. जिसका चेहरा नकाब से ढका हो 2. छुपा हुआ।
13. 1. होली के अवसर पर गाया जाने वाला एक प्रकार का गीत; चर्चरी 2. हल्ला-गुल्ला 3. (योगशास्त्र) एक प्रकार की मुद्रा।
14. 1. कर्ज़ या ऋण; कोई वस्तु इस प्रकार ख़रीदना या बेचना कि उसका मूल्य कुछ समय बाद दिया या लिया जाए 2. वह अवस्था जिसमें धन या कोई वस्तु जो चुका देने के वायदे पर माँगकर लिया या दिया गया हो।
लेबल:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget