ऑनलााइन हिंदी विश्व की सर्वप्रथम, समृद्ध वर्ग पहेलियाँ। मनोरंजन। ज्ञानवर्धन। दिमाग़ी कसरत।

551 - दीवार आदि रँगने के काम आने वाली कूची।

ऑनलाइन वर्गपहेली क्रमांक - 551
ऑनलाइन उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) शब्द पहेली Online Hindi Crossword / scrambled / jumbled word Puzzle
1   2       3   4 5
  6  
             
  7       8   9    
10     11
          12
    13 14    
15           16
        17    
18     19

ज़िदासा त्ताप यालुद दलामंहौस टसू केकेटटझल कुइरानठ तापो गिलट लबारी कूनज तससाँ शैल खइड़ोयाप दानला कपकाद नसहसा लाककपा कपशदेनिउ

बाएँ से दाएँ
4. 1. पर्वत; पहाड़ 2. कठोर पत्थर; शिला; पाषाण 3. चट्टान 4. बैठने का ढंग 5. रसौत; लिसोड़ा।
6. दर्शकों को आकर्षित करने के लिए की जाने वाली विशिष्ट क्रियाएँ या हाव-भाव।
10. वह जो निदेशक के बाद का प्रमुख अधिकारी हो; (डिप्टी डायरेक्टर)।
12. 1. पेड़ पर लगा हुआ हरे रंग का अवयव; पत्र; पर्ण 2. मोटे कागज़ के चौकोर टुकड़े (ताश के पत्ते) 
13. हौसला रखने वाला; साहसी; धैर्यवान।
15. कृपालु
17. साज़ बजाने वाला।
18. 1. राजपूत जाति की स्त्री 2. ठाकुर या राजा की पत्नी 3. ठाकुर के घर की स्वामिनी; मालकिन 4. रानी 5. नाई की पत्नी।
19. पक्षियों की मधुर आवाज़; चहक; कलरव; कूज।

ऊपर से नीचे
1. 1. बहुत अधिक शारीरिक कष्ट; यातना; पीड़ा 2. मुसीबत; झंझट 3. फ़जीहत; बुरी हालत।
2. 1. सफ़ेद रंग की एक घटिया धातु 2. एक धातु विशेष; पीतल लोहे आदि की बनी हुई ऐसी वस्तु जिसपर सोने-चाँदी आदि का पानी चढ़ा हुआ हो 3. उक्त प्रकार से सोने या चाँदी का पानी चढ़ाने की क्रिया या भाव।
3. 1. वह कपड़ा जिससे पैंट-शर्ट या सलवार-कमीज़ सिलाए जाते हैं; परिधान-समूह 2. एक ही कपड़े का बना कोट और पैंट 3. सलवार और कमीज़ 4. ऐसे कपड़ों का जोड़ा जो एक साथ पहने जाते हों।
5. 1. लबार होने की अवस्था या भाव 2. झूठ बोलना; मिथ्या भाषण करना।
7. नारियल में रेशे के भीतर का कड़ा आवरण।
8. विविध प्रकार के व्यंजन बनाने की कला; पाकविद्या।
9. 1. किसी वाक्य में छूटे हुए शब्द का स्थान बताने के लिए पंक्ति के नीचे बनाया जाने वाला चिह्न; हंसपद; त्रुटिका (^) 2. कौए के पद का परिमाण जो शिखा का शास्त्रविहित परिमाण है 3. एक रतिबंध 4. हीरे का एक दोष।
11. 1. पौत्र; पुत्र का पुत्र 2. पोतन; पोतना 3. वायु; हवा 4. एक प्रकार की मछली 5. यज्ञ के सोलह ऋत्विजों में एक 6. दीवार आदि रँगने के काम आने वाली कूची।
14. 1. मयूर; मोर 2. यज्ञ।
16. बैठक; बरामदा; मकान के बाहर लोगों के बैठने की छतदार खुली जगह; ओसारा।
लेबल:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget