591 - अच्छा निशाना लगाने वाला व्यक्ति

ऑनलाइन वर्गपहेली क्रमांक - 591
ऑनलाइन उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) शब्द पहेली Online Hindi Crossword / scrambled / jumbled word Puzzle
1   2     3
            4  
    5      
  6          
7     8 9  
    10 11    
           
12   13 14      
              15
  16   17

लाचचं रमुदा टवंआन गूलगु झेल तीयावज विलज पयराण नाखँरखा वैनचया कीउरना जरगा सुराटव मदुगाव ख़ोरख़ीशे चरैला बानेनिशाज़ मकीच लिआ

बाएँ से दाएँ
2. अच्छा निशाना लगाने वाला व्यक्ति; उत्तम लक्ष्यभेदी; निशानेबाज़ी करने वाला।
5. 1. सखी; सहेली 2. भौंरी; भ्रमरी (भौंरे की मादा) 3. पंक्ति; कतार।
7. 1. (संगीत) स्वरों का उतार-चढ़ाव या आरोह-अवरोह 2. सुरीलापन।
8. 1. जनसमूह; भीड़; मजमा 2. पठानों का वह दल या वर्ग जो जाति के रूप में होता है 3. इस प्रकार के दलों की सामूहिक सभा या बैठक।
10. 1. नृत्य कला में पारंगत; नर्तक 2. दूसरों को नृत्य सिखाने वाला; दूसरों को नाचने में प्रवृत्त करने वाला।
13. 1. लक्ष्मी 2. बादलों में चमकने वाली बिजली; मेघविद्युत 3. (काव्यशास्त्र) एक प्रकार का छंद या वर्णवृत्त 4. अपने हाव-भाव से आकर्षित करने वाली स्त्री।
16. खोदकर उखाड़ना या निकालना।
17. 1. गुग्गुल 2. एक कँटीला पेड़ 3. दक्षिण भारत में उगाया जाने वाला एक पेड़ जिसकी छाल से वार्निश बनाया जाता है 4. उस पेड़ का गोंद जो गंधद्रव्य है और दवा के भी काम आता है।

ऊपर से नीचे
1. मुर्दा; मृत व्यक्ति; शव।
3. 1. गले से खर-खर की ध्वनि के साथ थूक या बलगम निकालना 2. संकेत रूप में खाँसना।
4. 1. जो शेख़ी बघारता हो; शेख़ीबाज़ 2. डींग हाँकने वाला; डींगबाज़; अहंकारी।
5. 1. बाँटना; वितरण करना; हिस्से लगाना 2. देना; सौंपना 3. सरकारी तौर पर कोई संपत्ति या काम किसी के नाम करना; अधिकृत करना; (अलाटमेंट)।
6. 1. अत्यासक्ति 2. अंतिम लक्ष्य 3. सार 4. शरणस्थल 5. विष्णु।
8. 1. एक संकर रागिनी (गायन/वादन)
9. 1. जो गाय की पूँछ की तरह एक ओर मोटा तथा दूसरी ओर पतला हो; ऊपर से नीचे की ओर पतली होती जाती चीज़ 2. ढालू; ढलुवाँ 3. उतार-चढ़ाव वाला।
11. एक प्रकार का चार मुँहों वाला चूल्हा जिसपर एक साथ चार चीज़ें पकाई जा सकती हैं।
12. 1. वर्षा का न होना; सूखा 2. अवर्षण; अनावृष्टि।
14. 1. ज़री के चमकीले छोटे टुकड़े; ज़री की कतरन 2. कपड़ों पर ज़री से बेल-बूटे बनाने में काम आने वाले सितारे।
15. 1. झेलने की क्रिया या भाव 2. बरदाश्त करने की क्रिया या भाव 3. पानी की लहर; हिलोरा 4. हलका धक्का या झोंका; सुखद आघात 5. लहर के कारण किनारों पर होने वाली पानी की टक्कर।
लेबल:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget