627 - . कडुए कद्दू का सूखा हुआ वह रूप जिसके सहारे नदी-नाले आदि पार किए जाते हैं

ऑनलाइन वर्गपहेली क्रमांक - 627
ऑनलाइन उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) शब्द पहेली Online Hindi Crossword / scrambled / jumbled word Puzzle
1   2 3        
        4
                 
5 6   7     8  
    9     10  
    11    
           
12   13 14   15   16
          17
    18    

नीपिसौ डताभं टाईपि सफ़ीदी जकभं बातुं उंपाड खरिक दुहाई बूजाझीनी रौटाथप रीढे माराज हीगृतआ रीपासु पयचारा किशंतस दंपशउ खशदेमु

बाएँ से दाएँ
2. सिले हुए कपड़े बेचने वाला व्यक्ति; वह जो कपड़े के छोटे-छोटे टुकड़ों से टोपियाँ बना कर बेचता है।
4. 1. आग्रहण किया हुआ; निकाला हुआ 2. कहीं जमा किए हुए धन में से निकाला या लिया हुआ; (ड्रान)।
5. प्रतिशत; प्रति सैकड़ा; हर सैकड़े पर।
7. 1. ढेर; राशि; हुंड 2. इकट्ठा किया हुआ अनाज 3. बँटी हुई जायदाद का हिस्सा।
10. 1. पीसने का काम; अन्न आदि पीसने का पेशा 2. पीसने के बदले प्राप्त मज़दूरी।
11. पत्थर का बना हुआ बड़े आकार का कटोरेनुमा एक पात्र; बड़ी पथरी।
13. मराठी भाषियों में प्रचलित एक कुलनाम या सरनेम।
17. 1. तौल का एक अँग्रेज़ी मात्रक जो आठ छटाँक से कुछ कम होता है 2. सोने का एक अँग्रेज़ी सिक्का जो बीस शिलिंग के बराबर होता है।
18. 1. भंग करने वाला; तोड़-फोड़ करने वाला 2. ध्वंस करने वाला।

ऊपर से नीचे
1. 1. कडुए कद्दू का सूखा हुआ वह रूप जिसके सहारे नदी-नाले आदि पार किए जाते हैं 2. कडुए कद्दू को सुखाकर और खोखला करके बनाया गया एक प्रकार का पात्र
3. एक महत्वपूर्ण दलहनी फ़सल
6. 1. किसी वस्तु या विषय के संदर्भ में शंकित; शंकायुक्त; संदिग्ध 2. किसी आशंका के कारण डरा हुआ; भयभीत।
8. जानी-समझी; परिचित।
9. 1. एक प्रकार का यौन रोग; आतशक; गरमी नामक रोग।
10. 1. पीटने की क्रिया या भाव 2. अच्छी तरह पड़ने वाली मार 3. ज़मीन या छत को पीटने से मिलने वाली मज़दूरी।
12. 1. ऐसी बात या सूचना जो तेज़ स्वर में चिल्लाकर लोगों को सुनाई जाए; घोषणा; मुनादी 2. दीनतापूर्वक की जाने वाली याचना; फ़रियाद। [मु.] -देना : अपने बचाव के लिए किसी को बुलाना।
14. 1. गोठ 2. पशुओं के चरने की जगह 3. वह ईख जो ख़रीफ़ की फ़सल के बाद बोई जाती हो।
15. 1. नारियल की प्रजाति का एक उष्णकटिबंधीय पेड़ जिसके फल पान के साथ खाए जाते हैं 2. किसी की हत्या कराने के लिए किसी बदमाश
16. 1. भाँड़ों का काम 2. भाँड़ों जैसा व्यवहार या चेष्टा 3. ओछा हास-परिहास; तुच्छ हँसी-ठिठोली 4. मन में उत्पन्न होने वाली बुरी चेतना।
लेबल:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget