ऑनलााइन हिंदी विश्व की सर्वप्रथम, समृद्ध वर्ग पहेलियाँ। मनोरंजन। ज्ञानवर्धन। दिमाग़ी कसरत।

वर्गपहेली - 164


ऑनलाइन वर्गपहेली क्रमांक - 164
Online Hindi Crossword Puzzle
  1         2          
3 4     5   6  
      7    
8   9       10  
11          
        12 13  
      14        
      15       16
      17 18    
  19           20   21
             
22     23



दाएँ से बाएँ
3. एक रेडियोएक्टिव तत्व जिसकी परमाणु संख्या बानवे है
7. जलमंजोर, पिही, पिह, मीवा; तीतर के आकार का एक जलपक्षी
10. योद्धा, सिपाही, योधा, जोधा, आयुधी, वीर, सूरमा, संग्रामी, शस्त्रजीवी, आयुधजीवी, रणकारी, जंगावर, योध, योधक, युयुधान, सामंत, सामन्त, योधी, योधेय, यौधेय, बाष्कल, प्रहर्ता, विक्रांत, विक्रान्त; वह जो युद्ध करता हो
11. शहर का रूप लेने या शहर में बदलने की क्रिया
12. कैरीबियन सागर में स्थित एक द्वीप
14. अभिहति, आहति, हनन; एक संख्या को दूसरी संख्या से गुणा करने की क्रिया
16. फसल, फ़सल, उपज, शस्य, निपजी; खेत में उपजा हुआ अन्न आदि जो अभी पौधे में ही लगा हो
17. कृपासिंधु, कृपानिधि, कृपायतन; बहुत दयालु व्यक्ति
22. एक उपकरण जिसकी सहायता से मसूड़े को चीरकर मवाद आदि निकालते हैं
23. एक प्रकार का खंभा जिस पर चढ़ और उतरकर कई प्रकार की कसरतें की जाती हैं

ऊपर से नीचे
1. सन का मोटा रस्सा
2. सुड़कने की क्रिया
4. मज़दूरी करनेवाली स्त्री
5. एक प्रकार की बढ़िया चिकनी चटाई
6. शंखधवना, शङ्खधवना, प्रहसंती, प्रहसन्ती, पुष्पगंधा, पुष्पगन्धा; एक तरह का सफेद सुगंधित फूल
8. मान-सर; हिमालय के उत्तर में स्थित एक प्राकृतिक झील
9. दैहिक, जिस्मानी, कायिक, देहीय; शरीर या उसके अंगों से संबंधित
13. अमराई, अमरई, अंबराई, अँबराई, अमरैया, अम्बराई, अंबराव, अम्बराव, आमवारी, आमवाड़ी, अमराव; आम का बाग;
15. अदवाइन, उंचन, उञ्चन, औनचन, उनचन, उदवान, उँचन, अवसक्थिका; चारपाई के पैताने की बुनावट को खींचकर तनी रखने के लिए उसके छेदों में पड़ी हुई रस्सी
16. पाँव, टाँग, टांग, पग, गोड़, टँगड़ी, पाद, लात, पद, नलकिनी, पौ; वह अंग जिससे प्राणी खड़े होते और चलते-फिरते हैं
18. भागीदारी, हिस्सेदारी, साझा, भागिता, शरीकत, शराकत, शिरकत, इजमाल, पार्टनरशिप, इश्तिराक, इश्तराक, इशतिराक, इशतराक; दो या दो से अधिक लोगों के साझेदार होने की अवस्था या भाव
19. जो विधिपूर्वक किसी संस्था के द्वारा स्वीकृत किया जा चुका हो या जिसका पारण हो चुका हो
20. ई पत्र; पूरी दुनिया में फैली विद्युतीय संप्रेषण व्यवस्था के माध्यम से संगणक तंत्रों के प्रयोगकर्ताओं द्वारा अपने विचारों आदि का आदान-प्रदान
21. एक उपनिषद् , बकुले की तरह का एक पक्षी ; राम की सेना का एक बंदर
लेबल:

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget