ऑनलााइन हिंदी विश्व की सर्वप्रथम, समृद्ध वर्ग पहेलियाँ। मनोरंजन। ज्ञानवर्धन। दिमाग़ी कसरत।

वर्गपहेली varga paheli - 883 : काजल रखने का डंडीदार लोहे का पात्र

ऑनलाइन हिन्दी उलटपुलट / गड्डमड्ड (स्क्रैम्बल्ड) हिंदी शब्द - वर्ग पहेली Online Hindi Crossword / scrambled / jumbled word Puzzle संकेत के रूप में वर्ग पहेली के ठीक नीचे शब्द (उलटपुलट कर) दिए गए हैं
12
3
45
6
7
8


ख़ीशे ज़ीते गअनं नामलिईखा नीहिसो नाटोजादू अकतिरे गतेसोजाते षअशे टारौजक

बाएँ से दाएँ
2. (संगीत) मध्य रात्रि में गाई जाने वाली षाड़व जाति की एक रागिनी।
3. 1. रोब; डींग; झूठी शान; अकड़ 2. घमंड; अभिमान।
4. 1. तंत्र-मंत्र या जादुई तरकीबों द्वारा किया जाने वाला कोई काम; जादू करने की कला 2. (अंधविश्वास) टोटका; झाड़-फूँक।
6. 1. देहरहित 2. आकृतिविहीन।
7. 1. तेज़ होने का भाव; गतिशीलता 2. उग्रता; प्रबलता; तीव्रता 3. प्रखरता; तीक्ष्णता; पैनापन 4. शीघ्रता; जल्दी 5. दक्षता; होशियारी 6. अधिक चंचलता या चपलता 7. चलन से अधिक भाव हो जाना; महँगाई; 'मंदी' का विलोम 8. उत्साह; जोश।
8. 1. काजल रखने का डंडीदार लोहे का पात्र 2. गोदने की स्याही रखने का पात्र।

ऊपर से नीचे
1. 1. अनंत 2. पूरा; समूचा; मुकम्मल 3. अपार 4. असंख्य।
2. हर हाल में।
5. 1. किसी पंजी या तालिका आदि में नाम लिखा जाना; (एनरोलमेंट) 2. किसी पंजी या तालिका आदि में नाम लिखने के लिए शुल्क के रूप में लिया जाने वाला धन।
6. 1. आवश्यकता से अधिक होने की अवस्था

हल 882

882

एक टिप्पणी भेजें

टिप्पणियाँ यहाँ दर्ज करें. स्पैम/वायरस कड़ियों युक्त टिप्पणियों को रोकने हेतु टिप्पणियों पर मॉडरेशन लागू है अतः उन्हें यहाँ प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है. धन्यवाद.

आसान पहेलियाँ

[आसान][column1]

कठिन पहेलियाँ

[कठिन][column1]

तकनीकी / हास्य-व्यंग्य

[तकनीकी][column1][http://raviratlami.blogspot.com]

रचनाकार - हिंदी साहित्य

[कहानी][column1][http://rachanakar.blogspot.com]
[facebook][blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget